Followers

Thursday, June 21, 2007

मोदी जी की प्रतिभा पाटिल को गुगली

आजकल प्रतिभा पाटिल चर्चा मे है। अपने अखबार वाले पन्ने भर भर उनके पक्ष और विपक्ष मे लिखे जा रहे हैं । उनके बारे मे अच्छे अच्छे को मालूम नही था, आज उनकी चर्चा हर जबान पर है। ऎसा ही होता है । जब भाग्य जागता है तो दुनिया जानती है ।वो राष्ट्रपति बनने वाली है, भले भाषा शास्त्री इस पर विवाद करे कि महिला राष्ट्रपति कैसे बन सकती है !

अगर नही बन पाई तब भी इतिहास मे तो अमर हो ही गई । अब जब भी राष्ट्रपति का चुनाव होगा अपने पत्रकार मित्र अपने डेटा बेज मे से या फ़िर गूगल सर्च मे से प्रतिभा जी का कच्चा चिठ्ठा निकाल लिखेंगे कि किस प्रकार उनके चुनाव के समय एक तीसरा मोर्चा खुला था ? प्रतिभा जी को हराने के लिये भाजपा वाले अपने ही शेखावत जी को निर्दलीय बना रहे है। यू कहो कि निर्वस्त्र कर रहे हैं । तीसरा मोर्चा कलाम साहब के कन्धे पर बन्दूक रख प्रतिभा जी पर गोली दागने मे लगा हुआ है ।

यह सब भविष्य के पत्रकारों के लिये वो मसाला है जो गीगा बाइट मे अलग अलग सजाल मे इकठ्ठा हो रहा है ।आज अपने भाई लोग लक्ष्मी सहगल के बारे मे लिख रहे हैं, फ़िर लक्ष्मी सहगल और प्रतिभा जी के बारे मे लिखेंगे। कहने का अर्थ है कि उन्होने इतिहास बना लिया । खैर हम यहा हमारे नरेन्द्र मोदीजी के विचार दर्ज करने बैठे है। वो हमारे इसलिये हैं क्योकि हम उनके पांच करोड गुजरातवासियो मे से एक है। वैसे हम आपको बता दे कि पिछले पांच वर्ष से पांच करोड की रट लगाने वाले अपने मोदी जी ने अपने पिछ्ले भाषण मे यह संख्या बढा कर साढे पांच करोड कर दी थी।

मोदीजी की मुख्यमन्त्री बनने के बाद से यह शिकायत है कि मीडिया उनके अच्छे विचार नही लिखता है। उनके २०६३ दिन पूरे करने के उपलक्ष्य मे आयोजित कार्यक्रम मे तो उन्होने खुल कर कह दिया कि मैने इन्हे( मीडिया) पांच वर्ष झेला है, आप इन्हे थोडा समय झेलें । उन्होने यह भी कहा कि अगले छह महिने सत्य की आशा छोड दो इनसे।

अपने मोदी जी ने प्रतिभा जी के सामने तीन शर्ते रखी हैं । पहली तो यह कि वे विदेशी मूल के व्यक्ति के प्रधान मन्त्री न बनने दें, दूसरा यह कि वे अफ़ज़ल को फ़ांसी लगवाये और तीसरा यह कि वे महिला आरक्षण विरोधी लालू यादव का मत ठुकराये । देखी अपने मोदीजी कि प्रतिभाजी को गुगली । हम चाहते हैं कि भविष्य मे जब राष्ट्रपति पद के लिये कोई विवाद जागे तब मोदीजी के इस त्रिशूल विचार का ध्यान जरूर रखा जाये । व्यंग्य

3 comments:

Rodrigo said...

Oi, achei teu blog pelo google tá bem interessante gostei desse post. Quando der dá uma passada pelo meu blog, é sobre camisetas personalizadas, mostra passo a passo como criar uma camiseta personalizada bem maneira. Até mais

ज्ञानदत्त पाण्डेय Gyandutt Pandey said...

ये छछुन्दर रॉड्रीगो की स्पैम टिप्पणी आपके ब्लॉग पर भी आ गयी!

मोदी जी वर्सेटाइल प्लेयर हैं. गुगली, चाइनमेन, बाउंसर सब फैंकते हैं. बैटिंग कैसी कर रहे हैं - उसपर बताइयेगा. गुजरात आगे जा रहा है, पीछे जा रहा है या कच्छ के रन में जा रहा है - उसपर भी लिखियेगा.

Sanjeet Tripathi said...

सही है!!

आप अमदावाद से हैं, अभी कस्बा पर अपन ने रवीश कुमार जी का अमदावाद पर लेख पढ़ा जिसकी स्पेशन रपट एन डी टी वी पर आने वाली है।
क्या आप इस लेख या स्पेशन रपट वाले मामले पर कुछ लिखेंगे!

Post this story to: Del.icio.us | Digg | Reddit | Stumbleupon