Followers

Tuesday, September 4, 2012

मोदी चक्रव्यूह मे फंसे शक्तिसिंह

शक्तिसिंह गोहिल गुजरात कांग्रेस के दिग्गज ने्ताओं में से एक हैं. कांग्रेस के जमाने में, जो अब एक इतिहास है, गोहिल बापू मंत्री भी रह चुके हैं. विधानसभा में उनके भाषण और टिप्पणियां तो सभी का ध्यान खींचतीं हैं.
बापू आजकल सुर्खियों मे हैं. उनकी तेज तर्रार दलीलों के लिये नहीं. मुद्दा है अमरीका मे एक कार्यक्रम मे मोदी भक्तों द्वारा शक्तिसिंह की खिचाई. उन्होने मोदीजी के बारे में कुछ कहा और पब्लिक ने चिल पों कर उन्हे बैठा दिया.
बात यहां रुकी नहीं. कार्यक्रम के पूरे होने पर शक्तिसिंह को सुरक्षा के घेरे में बाहर निकलना पडा. कुछ लोगों के आक्रमक तेवर के कारण आयोजकों को यह इन्तजाम करना पड़ा.
आज जमाना है इन्टरनेट का और यू ट्यूब का. कभी भी कही भी सर्व सम्पन्न अपने इन्टरनेट भाई ने सेकन्डों में  शक्तिसिंह की फजीती का फसाना दुनिया के सामने पेश कर दिया.
बापू अपने मोदीजी के चक्रव्यूह में बड़ी आसानी से फंस गये थे. कार्यक्रम का आयोजक का भगवा विचारधारा के प्रति झुकाव और मोदी भक्ति कोई रहस्य की बात नहीं हैं. शक्तिसिंह भी इससे वाकिफ थे. पर चुनावी वर्ष में यह एक ऐसा मौका था जिसका कांग्रेस पूरा उपयोग करना चाहती थी. आजकल कांग्रेस में हाई कमांड निर्मित पंच चुनाव प्रचार के सभी मुख्य निर्णय लेता है. और इन पांच नेताओं की टोली ने निर्णय लिया कि छोटे बापू ( बड़े बापू तो शंकरसिंह वघेला हैं) अमरीका जायें और मोदीजी की तरह अपनी युवा और डिजाइनर वस्त्रों की छवी में मोदीजी की तरह दाढ़ी वाले चेहरे से लोगों को आकर्षित करें. इससे भी विशेष यह था कि मोदीजी भी इस कार्यक्रम के सम्बोधित करने वाले थे.
मोदीजी का अमरीका जाने का सवाल ही नहीं था. वे भले टाइम  मेगेजीन के कवर पेज पर चमकें अभी भी उनका अमरीका के वीजा का मुद्दा तो लटका हुआ है. खैर पिछले हफ्ते गूगल के अड्डे पर बातचीत मे मोदीजी ने स्पष्ट कर दिया था कि अब वो अमरीका के वीजा की नहीं सोचते हैं पर वो उस दिन को बनाने मे लगे हैं जब अमरीकी लोग भारत के वीजा के लिये कतार लगायेंगे.
मोदी भक्तों का कहना है कि २०१४ तक भी राह नहीं देखनी पडेगी उस दिन के लिये. अरूण जेटली और सुष्मा स्वराज सरकार गिरायेंगे और मोदीजी प्रधानमंत्री जी की कुर्सी पर बैठ जायेंगे.
खैर वीडियो तरंगों को तो किसी वीजा की जरूरत नही होती और अपने मोदीजी ने इन तरंगो पर सवार हो अमरीका के इस कार्यक्रम को सम्बोधित कर डाला. कांग्रेस को अपने लाक्षणिक अंदाज में कोसा.
कार्यक्रम में बापू पर एक और जवाबदारी आ गई. मोदीजी की टीका के साथ कांग्रेस का बचाव करना. आजकल गुजरात के कांग्रेसियों की एक नई समस्या है, केन्द्र सरकार के घोटालों के राजनीतिक प्रहारों से बचना.
मोदीजी ने तो वीडियो भाषण मार दिया, पर अपने शक्ति भैय्या तो उस कार्यक्रम में खुद मौजूद थे. वे मोदीजी पर अपना कोप प्रकट कर पाते उससे पहले ही लोगों ने उन पर अपना कोप प्रकट कर दिया और उसकी वीडियो चला दी.
शक्तिभाई ये पोलिटिक्स है कुछ भी हो सकता है. आपको बताने की जरूरत है क्या? बस इस बार चाल उलटी पड़ गई.

1 comment:

MAULIN SHAH SAYS GUJARAT BACHAO - JAGO JAGO JAGO said...

મોદી સાહેબને અમેરિકા વિઝા આપતું નથી પણ એમના પુતળા ને પણ નહિ?
http://gujaratbachao.blogspot.in/2012/09/blog-post.html

Post this story to: Del.icio.us | Digg | Reddit | Stumbleupon